best alone shayari

Best Alone Shayari – मेरे पति के जाने के बाद से मै भी कई बार अपने आप को अकेला महसूस करती हूँ, इसी कारण कभी-कभी मैं alone shayari पढ़ लेती हूँ. निचे कुछ आपके लिए बेहतरीन alone shayari ढूंड कर लायी हूँ, कृपया आप उनको एक बार अवश्य देखें

जब कोई हमे बीच राह में छोड़कर जाता है या हमसे अलग होता है तो हम काफी Alone फील करने लगते हैं. अकसर ऐसा देखा गया है की जब आप अकेलापन महसूस करते हैं तो आपका किसी से भी बात करने की इच्छा नहीं होती है. आप अपने इसी अकेलेपन को alone shayari के अंदाज़ में भी कह सकते हैं .

यह alone shayari किसी को भेजने, अपने whatsapp status में लगाने के लिए काफी अच्छा हैं. चलिए अब आपका ज्यादा समय नही व्यतीत करते हैं और अपने alone शायरियों की तरफ बढ़ते हैं .

30 Best Alone Shayari

alone shayari image number one download

अकेलेपन का एहसास भी कितना अजीब होता है,
जब हर कोई आपके साथ होता है,
और फिर भी आप अकेले होते हैं।


alone shayari image two

तन्हाई में भीड़ में खो जाना,
ये भी एक अजीब एहसास है,
जब आप अकेले होते हैं,
और फिर भी आप लोगों के बीच होते हैं।


alone shayari image three

खामोशी भी बहुत बोलती है,
अकेलेपन की खामोशी,
यह बताती है कि आप कितने अकेले हैं।


alone shayari image four

रात भी अकेलेपन का प्रतीक है,
जब सब सो जाते हैं,
और आप अकेले होते हैं,
तब रात आपको याद दिलाती है,
कि आप कितने अकेले हैं।


alone shayari image five

दर्पण में बस अपना ही साया दिखता है,
कोई साथ नहीं,
कोई बात नहीं करता,
केवल अकेलापन ही झलकता है।


alone shayari image six

लंबी सड़क, हवा में सन्नाटा,
केवल एक पथिक, अकेला जाता,
उसके साथ सिर्फ उसकी परछाई,
और अकेलेपन का गहरा सफर।


alone shayari image seven

शरद ऋतु में, पत्तियां गिरती हैं,
एक-एक कर, अकेली-अकेली,
हवा में नाचती, फिर जमीन पर गिरती,
अकेलेपन का ही तो ये नजारा है।


alone shayari image eight

रात में, अकेला चांद आसमान में चमकता है,
उसके साथ कोई नहीं, सिर्फ तारे दूर दूर,
वह भी अकेले ही चमकते हैं,
अकेलेपन की खूबसूरती और दर्द।


खेत में एक अकेला फूल खिलता है,
कोई उसे देखने नहीं आता,
कोई उसकी खूबसूरती की तारीफ नहीं करता,
वह बस खिलता है, अकेलेपन में ही।


alone shayari image ten

अथाह गहराई, लहरों का खामोश नृत्य,
समुद्र अकेला ही विशालता समेटे,
उसके भीतर छिपे अनगिनत रहस्य, 
जैसे अकेलेपन के अनकहे किस्से।


बादलों को छूता हुआ शिखर,
पहाड़ चुपचाप अकेला खड़ा,
उसकी चट्टानों पर समय के निशान,
अकेलेपन की ताकत और मौन गरिमा।


रेत का एक अनंत समुद्र,
बंजर में सिर्फ सन्नाटा फैला,
कोई आवाज नहीं, कोई हलचल नहीं,
सिर्फ अकेलेपन का ही राज।


प्यासा दिल, भटकता मन,
अकेलेपन की सताती प्यास,
जिसका कोई किनारा नहीं दिखता,
सिर्फ भटकन और अधूरापन।


रात के सन्नाटे में, अकेले जागते हुए,
मन के विचार उठते-गिरते,
एक आंतरिक संवाद,
अकेलेपन का ही तो खेल है।


झील के शांत पानी में,
अपना ही धुंधला प्रतिबिंब,
अकेलेपन का दर्द झलकता है,
जैसे आत्मा का अकेलापन।


यादों के पन्नों को पलटते हुए,
बीते वक्त के साथी नहीं रहे,
सिर्फ उनकी यादें बची हैं,
अकेलेपन की मीठी कटार।


लंबी सड़क, अज्ञात मंजिल,
अकेला यात्री चलता जाता है,
साथ में सिर्फ उसकी परछाई,
और अकेलेपन की लंबी यात्रा।


आसमान में अकेला पंछी उड़ता है,
कोई साथ नहीं, कोई मंजिल नहीं,
सिर्फ स्वतंत्रता का गीत गाता है,
अकेलेपन का ही तो नहीं।


अंत में, सबसे बड़ा अकेलापन खुद से है,
खुद को समझना, खुद को स्वीकारना,
एक कठिन पर जरूरी सफर,
जिससे ही हम अकेलेपन को जीत सकते हैं।


अधरा अंधेरा कमरे में फैला,
खिड़की से झांकता आसमान का सन्नाटा,
अकेलेपन का साया हवा में घुला,
कोई नहीं साथ, सिर्फ तारों की बातें।


पन्नों में खोया एक शख्स,
पोथी की दुनिया में बस पाया,
अकेलेपन का दर्द छुपा लेता,
शब्दों के जंगल में समा जाता।


alone shayari image twentytwo

गांव के किनारे झुकता हुआ पेड़,
उसकी टहनियों पर समय का भार,
पत्ते झड़ते, साथी बिखरते,
सिर्फ अकेलेपन का इंतजार।


लालिमा लिए सूरज ढलता,
शाम की घड़ी का सन्नाटा छाता,
लहरों की आह, हवा का तराना,
अकेलेपन का गीत सुनाता।


नदी के किनारे नर्कटों का जंगल,
हवा में फुसफुसाहट, अकेली-अकेली,
छुपा लेता हर आवाज को,
अकेलेपन का ही जादू चलाता।


बंद दरवाजे, दीवारों पर सन्नाटा,
घर खामोश, सिर्फ अंधेरा छाया,
अकेलेपन का साया हर तरफ,
कोई आहत दिल, कोई कहानी।


alone shayari image twentysix

बर्फ का सफेद रेगिस्तान फैला,
हर तरफ सन्नाटा, कोई नज़र नहीं,
अकेलेपन की विशालता,
दिल में ठंड, आंखों में तन्हाई।


चिमनी से उठता धुआं, आसमान में घुलता,
अकेले घर का अकेला निशान,
बिना आग के जलता हुआ दिल,
अकेलेपन का ही धधकता ज्वार।


सूरज ढलते ही लंबी हो जाती छाया,
साथी नहीं, बस खुद का साथ,
अकेलेपन का रास्ता तय करना,
खुद के ही कदमों की आवाज।


alone shayari image twentynine

हर शाम अकेलेपन का अंधेरा,
हर सुबह एक नए जन्म का सवेरा,
अकेलेपन से लड़ना, जीना सीखना,
खुद ही सूरज बनकर जगमगाना।


Alone Shayari in Hindi

शाम का हर पल, मेरी तन्हाई की दास्ताँ,
तुम्हारे बिना जबसे, तन्हा होना मेरे नसीब में हो गया है।


दुनिया की भीड़ में छुपा हुआ हूँ,
वफादारी का असली मतलब, तन्हा होकर समझा है मैंने।


तुम्हारी समझ सकती है क्या है मोहब्बत,
तुम्हारी साँसों में मेरी खोई हुई खोज है मुझे तन्हा नहीं करने दो!


मैं अकेला हूँ, पर मुस्कुराता हूँ बहुत,
खुद के साथ बिताए जा रहे लम्हों को मैं खुद से ही बहुती ख्याल से जी रहा हूँ!


अब मेरे अकेलेपन से, शिकायत नहीं है,
मैं पत्थर हूँ, जिसे खुद से भी मोहब्बत नहीं है!


हर्ट को छोड़ना बंद कर दिया है,
क्योंकि मेरी फीलिंग्स को कोई समझने वाला नहीं है!


तुम थे जिनके साथ मेरी साँसें चलती थीं,
लौट आओ, जिंदगी से वफा निभाई नहीं जाती!


उन्होंने बना लिया था मुझे छोड़ने का बहाना,
किस्मत तो सिर्फ एक बहाना था!


कुदरत के इन हसीन नजारों का क्या करें,
तुम नहीं हो तो इन चाँद सितारों का क्या करें!


अकेले होना और अकेलेपन को सहना होता है,
आँसू पीना और मुस्कुराना हर एक का अपना होता है!


आज कुछ अजनबी सा लगता है मेरा वजूद,
सब होते हैं साथ, फिर भी दिल क्यों अकेला सा लगता है!


तुझसे दूर जाने के बाद तन्हा हूँ, लेकिन,
तसल्ली बस इतनी सी है, कोई फरेब साथ नहीं!


शायद वह बेहतर की तलाश में है,
और हम तो अच्छे भी नहीं हैं!


तेरी मोहब्बत पर मेरा हक तो नहीं है,
पर दिल चाहता है, आखिरी सास तक तेरा इंतजार करूं!


जो अकेले रहना सीख जाते हैं,
उन्हें फिर किसी और की जरुरत नहीं पड़ती!


हालात खराब हो तो अपने ही,
गैरों के जैसा बर्ताव करने लगते हैं!


हर रंग का मौसम मुझसे वाकिफ है,
लेकिन रात की तन्हाई मुझे अलग से जानती है!


बारिश की हर बूंद जानती है
अकेलापन का दर्द और क्या होता है!


बस एक आख़िरी दुआ कबूल हो जाए,
ताकि तेरी यादें मेरे दिल से दूर हो जाएं!


अब मेरी तन्हाई भी मेरे साथी है,
मैं बेवफा भी नहीं, इसे मोहब्बत करने दो!


खुद से ही बातें हो जाती हैं अब,
लोग वैसे भी कहा सुनते हैं आज कल!


दिल जिसके लिए मेरी जगह नहीं है,
वही मेरे लिए क्यों खास है?


जिंदगी में कुछ गलत लोगों ने,
हमें जीवन का सही सिखाया है!


लफ्ज़ों में छुपी गहरी राज़ की बातें,
शायरी और मजाक समझा जाता है मुस्कुरा कर!


जो होगा, वही होगा, देखा जाएगा,
अब ज़िंदगी का आगे क्या होगा, यह समय ही बताएगा!


सच्ची मोहब्बत करने वाले के लिए,
तन्हाई ही खास रहती है!


अकेलापन भी मेरा साथी है,
हमें हमसफ़रों से अलग करने वाला!


अब वही होगा जो दिल चाहेगा,
आगे जो होगा, देखा जाएगा!


Alone Shayari 2 Lines

सुन, अकेला रहना और अकेलेपन में रहना,
वैसा ही होता है जैसे मुस्कुराना और ग़म में रहना!


निभाने वाले आपकी हर गलती माफ़ कर देते हैं,
और छोड़ने वाले बिना गलती के भी छोड़ जाते हैं!


बात इतनी है कि तुम बहुत दूर होते जा रहे हो,
और हद यह है कि तुम यह मानते भी नहीं!


मैं बेवजह उसकी तलाश में क्यों हूँ,
क्या मैं खुद ही खुद को बर्बाद करता हूँ!


अकेला होकर भी अकेला नहीं हूँ मैं,
तेरी यादों ने मेरे साथ हैं, और यही मेरा सहारा है!


मोहब्बत में कसूर किसी का भी हो,
अकेलेपन की सजा हमेशा बेकसूर को मिलता है!


मेरी तन्हाई मार डालेगी, दे-दे कर ताने मुझको,
एक बार आ जाओ, इसे तुम खामोश कर दो!


जो चाहते थे हम उसको, उसने दिल पर वार किया,
पहले प्यार किया, फिर अकेलापन देकर दर्दकिनार किया!


फितरत में नहीं है मेरे हर चेहरे पे मिट जाना,
तुझे चाहने में भी जमाने लगे हैं मुझे!


Alone Shayari 2 Line

सुन, अकेलापन और तन्हाई की कहानी,
ये हमारी जिंदगी की अद्वितीय राहें हैं।


दिल को छूने वाली मोमेंट्स बहुत हैं,
जब अकेले होकर भी खुदा से बातें करता हूँ।


कभी-कभी अकेलापन में ही मिलती है,
वो स्वयंसिद्ध राह, जो हमें अपने लक्ष्यों की ओर ले जाती है।


जिस अकेलेपन को देखकर भी हंसी मिले,
वह सच्चा अकेलापन है, जिसमें खुद के साथ हो जाए बातचीत।


तन्हा होना कोई गुनाह नहीं है,
बल्कि यह हमें अपने आत्मा से मिलाता है।


जिन्दगी की यह कई राहें हैं,
और हर राह पर अपना ही एक अद्वितीय सफर है।


तन्हाई में ही हमारी असली पहचान होती है,
जो दुनिया के शोर से अलग होकर सुना जा सकता है।


अकेलापन को दोस्त बना लो, तो,
जिंदगी का सफर और भी हसीन हो जाता है।


जब रातें लम्बी होती हैं और तन्हाई में,
ख्वाबों की दुनिया बनती है, जो हमें अपने आप से मिलाती है।


Sad Alone Shayari

दिल टूटा हुआ है, और छोड़ जाने का इलाज नहीं,
तन्हाई में बैठा हूँ, खुदा से सिर्फ यही सवाल है।


रातें हैं सुनसान, और आँसू हैं सल्ज़न,
इन ख्वाबों में मेरी तक़दीर है रोती हुई।


दिल को बहुत दर्द है, पर आँसू हैं सुखा,
जिंदगी का यह लम्हा है, मेरी तक़दीर का सफर है।


अकेलेपन की रातें हैं सुनी, दिल की धड़कनें बेताब,
जिंदगी ने दिखा दिया है, तूफानों का सफर है।


खोई हुई बातें, और बिखरे हुए ख्वाब,
इन ख्वाहिशों का कोई अंजाम नहीं है।


रातों में होता है बहुत दर्द, जब सारी बातें सुनी,
तन्हाई ने सिखाया है, कि दोस्ती का कोई इलाज नहीं है।


आंसू हैं सच्चे, दिल का दर्द है बयां,
तन्हाई की रातों में, खुद से ही कर लेता हूँ खामोशी।


बिखरी हुई मोहब्बतों का है सफर,
ख्वाबों की दुनिया में, दिल है तन्हा हुआ बेरंग।


जिंदगी की तक़दीर की है यही कहानी,
अब तो खुदा से ही मेरा रिश्ता है, मैं तन्हा हूँ।


रात की चादर में लिपटा हूँ, आँसू से भरा हूँ,
दर्द की रातों में, खुद से रूबरू हूँ।


दिल टूटा है, पर मेरी मुस्कान सबकुछ कह देती है,
तन्हाई में भी, दिल खोलकर हंसता हूँ।


खामोश रातों में, दिल बैठा है रोता,
तन्हाई से बढ़कर, खुद से ही लड़ता हूँ।


अकेलापन की आँधी, दिल को छू जाती है,
तन्हा हूँ, पर अपने दिल का सबसे साथी हूँ।


रात के साये में, तन्हा सा हूँ,
अपने दर्दों से जूझता हूँ।


खोई हुई रात, छूटी हुई बातें,
इन यादों की गहराईयों में, अपने दर्द को छुपाता हूँ।


सारी रातें सुनसान, और दिल है सजग,
खुदा से मेरी राहें पूछता हूँ।


रात की ठंडक में, दिल बहुत उदास है,
तन्हाई ने सिखाया है, कि दर्द का सामना कैसे किया जाता है।


रातों की तन्हाई में, दिल छूटा हुआ है,
आँसू मेरी खुदाई है, जिंदगी का यह सफर है।


रात की राहों में, दिल की धड़कनें सुनी,
तन्हाई में हूँ, मगर अपने साथी से दूर नहीं।


Also Read:
Ghalib Shayari
Punjabi Shayari
Gulzar Shayari
Rahat Indori Shayari
Waqt Shayari

मैं आशा करती हूँ आपको ये Alone Shayari, Heart Touching 2 Line Shayari, and Bura Waqt Shayari ज़रूर पसंद आयी होंगी मैं ऐसी ही हिंदी शायरी के Collection Sirfshayari.in पर पब्लिश करती रहती हूँ। आप इस पेज को Bookmark कर सकते हैं यहाँ मैं नयी नयी Alone Shayari post करती रहूंगी। आप मुझसे जुड़ने और Direct मुझसे बात करने के लिए मेरे Instagram Page को ज्वाइन कर सकते हैं।